Thursday, 7 December 2017

Important Notes (General Hindi) for MP Patwari Exam 2017

#  कबीर किस काव्य धारा के कवि थे - ज्ञानमार्गी
#  आचार्य रामचन्द्र शुक्ल ने 'त्रिवेणी' में तीन महाकवियों की समीक्षाएँ प्रस्तुत की, वे कवि हैं - सूर, तुलसी, जायसी
#  'यह युग (भारतेन्दु) बच्चे के समान हँसता-खेलता आया था, जिसमें बच्चों की सी निश्छलता, अक्खड़पन, सरलता और तन्मयता थी।' यह कथन है - आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
#  भारत में अंग्रेज़ी भाषा को शिक्षा के माध्यम के रूप में किसने आरंभ किया - लॉर्ड मैकाले द्वारा
#  'रस मीमांसा' पुस्तक के लेखक हैं -  आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
#  'ध्रुव स्वामिनी' नाटक के रचयिता हैं - जयशंकर प्रसाद
#  जलप्लावन भारतीय इतिहास की ऐसी प्राचीन घटना है, जिसको आधार बनाकर छायावादी युग में एक महाकाव्य लिखा गया। उसका नाम है - कामायनी
#  'कितने पाकिस्तान' नामक उपन्यास के लेखक हैं -  कमलेश्वर
#  "रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून" में अलंकार है - श्लेष अलंकार
#  'इटालियन ऑफ़ द ईस्ट' कहा जाता है - तेलुगु
#  'मुख रूपी चाँद पर राहु भी धोखा खा गया' पंक्ति में अलंकार है - रूपक
#  ‘जुगुत्सा’ किस रस का स्थायी भाव है - वीभत्स रस
#  प्रवाह लाने के लिए छन्द की पंक्ति में ठहरना कहलाता है - यति
मध्य प्रदेश पटवारी चयन परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण हिंदी नोट्स
#  'सूर्योदय' शब्द में कौन-सी संधि है - गुण संधि 
#  'गुज़र-बसर करना' मुहावरे का सही अर्थ है - जीवन-निर्वाह करना
#  तीन बेर खाती थी वे तीन बेर खाती है में कौन-सा अलंकार है - यमक अलंकार
#  उस काल मारे क्रोध के, तन काँपने उसका लगा। मानो हवा के जोर से, सोता हुआ सागर जगा।।
प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा रस है - रौद्र रस
#  भारत के किस प्रान्त में कोंकणी भाषा बोली जाती है - महाराष्ट्र तथा गोवा
#  किस भाषा को भारतीय आर्य भाषाओंकी जननी, भारतीय आर्य संस्कृति का आधार, देवभाषा आदि नामों से जाना जाता है - संस्कृत
#  काव्य के आस्वादन से जो आनन्द प्राप्त होता है, उसे क्या कहते हैं - रस 


✭ पिछले SET पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

0 comments:

Post a comment

Like Our Page On Facebook

Latest MP Govt Jobs